सफाई से लेकर पानी और बिजली आपूर्ति को दुरुस्त रखने को लेकर अपर समाहर्ता ने अधिकारियों संग की बैठक

  • निर्वाध रूप से की जायेगी बिजली और पानी की आपूर्ति, दशमी को चार बजे से की जायेगी बिजली कट

गिरिडीह। शारदीय नवरात्र को लेकर हर कोई मां दुर्गे की उपासना में जुटा हुआ है। वहीं दूसरी तरफ गिरिडीह जिला प्रशासन भी फेस्टिवल को लेकर मुस्तैद है। शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों में फेस्टिवल के एक एक गतिविधि पर पुलिस नजर रखे हुए है। इसी क्रम में शुक्रवार की शाम अपर समरहर्ता विल्सन भेंगरा के नेतृत्व में अधिकारियो की बैठक हुई।

बैठक में सदर एसडीएम विशालदीप खलको और उपनगर आयुक्त स्मृति कुमारी, डीएमओ सतीश नायक के साथ बिजली बोर्ड के सहायक अभियंता सतेंद्र सिंह और देशराज के साथ अग्निशमन अधिकारी भी शामिल हुए। बैठक में बिजली बोर्ड के दोनों एसडीओ को कड़े शब्दों में निर्देश दिए गए की हर हाल में एक अक्टूबर से बिजली आपूर्ति बेहतर रहे है। खास तौर पर शहरी क्षेत्र में। क्योंकि अष्टमी और नवमी में इस बार भीड़ अधिक रहने की उम्मीद है। लेकिन दशमी को शाम चार बजे से प्रतिमा विसर्जन को देखते हुए बिजली आपूर्ति बंद कर देने का निर्देश हुआ।

मौके पर उपनगर आयुक्त स्मृति कुमारी को शहर के हर पूजा पंडाल और मंडपों में लगातार सफाई व्यवस्था दुरुस्त रखने और जरूरत के अनुसार पेयजलापूर्ति के इंतजाम करने का निर्देश हुआ। पानी टैंकर के साथ पाइप लाइन के जरिए पानी आपूर्ति जारी रखने की बात कही गई। जबकि अग्नि शमन विभाग के अधिकारी को दो अक्टूबर से लगातार सक्रिय रहने को कहा गया।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी