शराब नही लाने पर पिता ने पुत्र की कर दी हत्या

गिरिडीह। जमुआ के सखेयबाद गांव में एक कलयुगी पिता ने अपने पुत्र की हत्या इसलिए कर दी कि उसके कहने पर पुत्र ने उसे शराब लाकर नही दिया। थाना में पहुंचे मामले पर त्वरीत कार्रवाई करते हुए पुलिस ने इस मामले का उद्भेदन पुलिस ने 24 घन्टे के भीतर कर लिया है। शुक्रवार को चिंकू वर्मा (14) पिता विनोद वर्मा का शव सखेयबाद गांव स्थित कुआं में तैरता मिला था।

पहली पत्नी का था पुत्र

शनिवार को जमुआ थाना में एक प्रेस वार्ता आयोजित कर प्रभारी एसडीपीओ नोशाद आलम ने बताया कि घटना को लेकर मृतक के मामा बेंगाबाद के मोतीलेदा निवासी संजय कुमार वर्मा ने लिखित आवेदन दिया था। एसडीपीओ ने बताया कि उनके निर्देश पर पुलिस अंचल निरीक्षक नवीन कुमार सिंह के देख रेख में अनुसंधान प्रारंभ किया गया। अनुसंधान के क्रम में मृतक के पिता विनोद महतो द्वारा ही अपने पुत्र की हत्या करने की बात सामने आयी। मृतक चिंकू वर्मा आरोपी के पहली पत्नी का पुत्र था। आरोपी ने एक व्यक्ति की मदद से घटना को अंजाम दिया और साक्ष्य को छूपाने के उद्देश्य से शव को कुआं में डाल दिया। विनोद महतो ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। रविवार को उसे जेल भेजा जाएगा। एक अन्य आरोपी भी जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होगा। एसडीपीओ ने बताया कि हत्या का कारण पारिवारिक विवाद और पिता पुत्र में अच्छा सम्बंध नही होना था। पुलिसिया जांच में यह बात सामने आयी कि बेहोशी की हालत में चिंकू को पहले गर्दन दबाकर मार डाला और बाद बाद में शव को कुआं में डाल दिया।

आरोपी ने कबूला गुनाह

इधर आरोपी विनोद महतो ने बताया कि उसकी पहली शादी वर्ष 1993 में मोतिलेदा में हुई थी। पहली पत्नी के लकवाग्रस्त हो जाने के बाद वर्ष 2007 में उसने दूसरी शादी रचाई। गुरुवार शाम में उसने अपने बेटे चिंकू वर्मा को गांव से ही शराब खरीदकर लाने को कहा। पुत्र चिंकू ने उसके इस बात को मानने से इनकार कर दिया जिसके बाद उसे गुस्सा आ गया और उसके साथ मारपीट कर दी। मारपीट के क्रम में वह बेहोश हो गया। बाद में एक अन्य व्यक्ति की मदद से बेहोश बेटे को उठाकर गांव के साइड स्थित एक कुआं के पास ले गया।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी