हैरत : अब जाकर मिला है 100 साल पहले लिखा खत

नयी दिल्ली। फोन मैसेजिंग और चैट के जमाने में एक अजीब घटना सामने आयी है। अमेरिका के मिशिगन एक महिला अपने घर के लैटरबॉक्स में रखे पोस्टकार्ड को देखकर हैरान रह गयीं। क्योंकि इस पोस्टकार्ड को आज से 100 साल पहले यानी साल 1920 में भेजा किया गया था, जो अब जाकर इस पते पर पहुंचा है। ब्रिटैनी कीच नामक इस महिला ने फेसबुक पर पोस्टकार्ड की कुछ तस्वीरें शेयर की हैं। इसके साथ ही उसने लोगों से मदद भी मांगी है ताकि पोस्टकार्ड उसके असल मालिक तक पहुंच सके।

पोस्टकार्ड के अंदर काले रंग की बिल्ली की तस्वीर है, जिसने अपने हाथ में झाड़ू पकड़ी है। इसमें एक उल्लू और एक महिला भी दिख रही हैं। ब्रिटैनी ने कहा है कि ये मुझे आज खत मिला है। ये दिखने में काफी पुराना लग रहा है। यह जिसका है, मैं उसे या उसके परिवार को सौंपना चाहूंगी। क्या कोई इस शख्स को जानता है? इसका पहला नाम गायब है। अभी देखा तो इसपर 29 अक्टूबर, 1920 की तारीख पड़ी है। जो हो, फिलहाल दो महिलाएं इस काम में ब्रिटैनी कीच की मदद कर रही हैं।

इस पोस्टकार्ड पर ब्रिटैनी के घर का पता लिखा था और ये किसी रॉय मकक्वीन नामक व्यक्ति को लिखा गया था। इसके बाद ब्रिटैनी ने इसमें लिखी गई बात भी शेयर की हैं। खत में लिखा है ”प्यारे कजिन, आशा है आप सबको ये अच्छा लगेगा। हम ठीक हैं लेकिन मां के पैरौं में दिक्कत है। यहां भयानक ठंड है। मैंने बस अभी अपने इतिहास का लैसन खत्म किया है और जल्द ही सोने जाना है। मेरे पिता शेविंग कर रहे हैं और मेरी मां आपका पता बता रही हैं। मुझे अब सोने जाना है। आशा है दादा और दादी ठीक होंगे। हमें खत लिखना मत भूलना।” इस खत पर किसी फ्लॉसी बर्गीज के हस्ताक्षर हैं। हालांकि 30 साल की ब्रिटैनी को नहीं पता कि आखिर ऐसा क्या हुआ कि खत को पहुंचने में 100 साल का वक्त लग गया लेकिन उन्होंने बाद में इसके असल मालिक तक इसे लौटाने का फैसला लिया है।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी