हेल्पिंग कॉर्प्स फाउंडेशन के जिला कॉर्डिनेटर ने जरूरतमंद बच्चो को स्पॉन्सरशिप लाभ के लिए बाल संरक्षण कार्यालय में दिया आवेदन

  • मामले से उपायुक्त को भी कराया अवगत

गिरिडीह। जिले के देवरी प्रखंड के बाघरायडीह गांव के ग्रामीण लाल मोहम्मद की मृत्यु लगभग डेढ़ वर्ष पूर्व बिजली के पोल से गिर जाने के कारण हो गई थी। जिसके बाद उसके परिवार की आर्थिक स्थिति भी काफी दयनीय हो गई है। घर पर कोई कमाने वाला नही था बच्चे अपने पढ़ाई को बंद करके घर पर थे। कोई सरकारी सहायता भी नही मिल रही थी। ऐसे में दो बच्चो को पढ़ाना लिखाना और घर चलाना मां के लिए काफी मुश्किल हो गया था। वहीं दूसरी ओर देवरी प्रखंड के चतरो पंचायत के पुरनीगडियां के होरिल हाजरा की मृत्यु कोरोना काल में हो गई थी। जिसके बाद से उनके तीन बच्चों की जिम्मेदारी विधवा पत्नी पर आ गई। घर की माली हालात काफी दयनीय थी। बच्चे की पढ़ाई भी बाधित हो रही थी।

जिसे देखते हुए हेल्पिंग कोर्प्स फाउंडेशन के मानवाधिकार व बाल संरक्षण के जिला कॉर्डिनेटर जाकिर अंसारी ने मामले की जानकारी उपायुक्त को दी और जिला बाल संरक्षण इकाई कार्यालय में बात की। मामले की जानकारी होने के बाद उपायुक्त ने संबंधित कार्यालय में आवेदन करने का निर्देश दिया। उन्होंने परिवार को बुधवार को गिरिडीह लाकर दोनांे परिवार के पांचों बच्चो के लिए स्पॉन्सरशिप हेतु के बाल संरक्षण कार्यालय में आवेदन कराया।

इधर विभागीय अधिकारियों द्वारा आश्वासन दिया गया की जल्द ही बच्चों को स्पॉंसरशीप दिया जायेगा।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी