22 जनवरी को सेविका सहायिका पोषण सखी करेंगी प्रदर्शन

ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ आंगनबाड़ी वर्कर्स एन्ड हेल्फर्स की बैठक में लिया गया निर्णय

कोडरमा। ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ आंगनबाड़ी वर्कर्स एन्ड हेल्फर्स (आइफा) के आह्वान पर देशभर मे चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में और नई शिक्षा नीति (एनइपी) के खिलाफ तथा 45वें और 46वें श्रम सम्मेलन की सिफारिशों को लागू किए जाने जिसके अंतर्गत स्थायीकरण करने, 21000 रुपये तक न्यूनतम वेतन देने, दस हजार रुपये तक पेंशन सहित सभी सामाजिक सुरक्षा का लाभ देने, आईसीडीएस का निजीकरण नहीं करने, स्कूलों में प्री स्कूल या नर्सरी नहीं खोलने, मजदूर विरोधी लेबर कोड और किसान विरोधी कानूनों को वापस लेने की मांग पर 22 जनवरी को उपायुक्त के समक्ष प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया। उक्त निर्णय प्रखंड परिसर मे आयोजित झारखण्ड राज्य आंगनबाड़ी सेविका सहायिका पोषण सखी संघ (सीटू) की बैठक में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष शोभा प्रसाद व संचालन जिला सचिव वर्षा रानी ने की।

सरकार में आने के बाद भी हेमंत सोरेन ने भी नही निभाया वादा: प्रदेश अध्यक्ष

बैठक को सम्बोधित करते हुए आंगनबाड़ी संघ की प्रदेश अध्यक्ष मीरा देवी ने कहा कि हेमन्त सरकार ने भी मानदेय बढ़ाने का अपना वादा नहीं निभाया। जिसके खिलाफ बजट सत्र में विधानसभा के समक्ष प्रदर्शन किया जायेगा। जिले में चार माह से पोषाहार राशि बकाया है, छः माह से एफसीआई से चावल नहीं मिला है, फिर भी सेविका बाजार से उधार लेकर आंगनबाड़ी बच्चों को सूखा राशन दे रही है। वित्तीय वर्ष 2016-17 का बकाया मानदेय जिसकी राशि आईडीबीआई बैंक मे पड़ा है, बार बार आवेदन देने के बावजूद नहीं दिया जा रहा है। मतदाता सूची का काम करने के बाद बीएलओ के लिए आवंटन होने के बावजूद प्रोत्साहन भत्ता अंचल कार्यालय से नहीं दिया जा रहा है। इन सारे मुद्दों को जिला स्तरीय प्रदर्शन में उठाया जायेगा।

बैठक में थे उपस्थित

बैठक मे प्रदेश संयुक्त सचिव पूर्णिमा राय, शकुंतला मेहता, मंजू मेहता, उर्मिला देवी, कविता यादव, जरीना खातून, सोनीका भारती, संध्या वर्णवाल, गीता देवी, दीपा, रीना देवी, संध्या कुमारी, मुशरत खातुन, रानी, निर्मला देवी, तरन्नुम हाशमी, ललिता देवी, रीता, संजू देवी, सुनैना देवी, नाहिद अख्तर, शबाना कौशर, बेबी, पुनम देवी, प्रियंका, बबीता देवी, कंचन देवी, संगीता, अर्चना देवी, उषा देवी, रुकसाना खातून, राखी रजक, कुंती देवी, कांति देवी, देवंती देवी, किरण देवी, सविता, सुनीता, रूपा देवी, माधुरी देवी, अफसाना खातुन, तबस्सुम प्रवीण सहित काफी संख्या मे सेविका सहायिका और पोषण सखी शामिल थी.

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी