लंगटा बाबा समाधि पर्व मेला को लेकर हुई बैठक

  • समाधि स्थल के दोनों ओर तीन सौ मीटर तक नही लगेगी कोई दुकान
  • कोविड 19 के दिशा निर्देशों के तहत होगा समाधि पर्व का आयोजन: एसडीएम

गिरिडीह। जमुआ के खरगडीहा में लगने वाले प्रसिद्ध लंगटा बाबा मेला को लेकर शनिवार को लंगटा बाबा समाधि परिसर, खरगडीहा में एक बैठक हुई। खोरीमाहुआ एसडीएम धीरेन्द्र कुमार सिंह की अध्यक्षता में संपन्न बैठक में खोरीमाहुआ एसडीपीओ संतोष मिश्रा, जमुआ प्रखण्ड विकास पदाधिकारी बिनोद कुमार कर्मकार, अंचलाधिकारी रामबालक कुमार, पुलिस निरीक्षक विनय कुमार, जमुआ थाना प्रभारी प्रदीप कुमार दास, एसआई नमिता कुमारी, खरगडीहा मुखिया चीना खान, सामाजिक कार्यकर्ता बिजय कुमार चैरसिया, पंसस प्रतिनिधि जुल्फिकार अली, रिंटू सिन्हा, रविन्द्र यादव, योगेश कुमार पाण्डेय, पिंटू साव, मो. शमीम, पवन कुमार वर्णवाल, उमेश कुमार साव, सोनू कुमार, अमरेन्द्र कुमार, सुनील साव, दिनेश कुमार साहू, इंदर यादव, अशोक छाबड़ा, अशोक साव, संदीप सलूजा, सहदेव विश्वकर्मा, पारस कुमार यादव, विपिन कुमार, चेतन विवेक, कृष्णा पंडित, लंगेडिया बाबा, विकास कुमार महतो समेत खरगडीहा और आसपास के दर्जनों स्थानीय लोगों की उपस्थिति रही।


बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि इस बार कोविड-19 के प्रकोप को देखते हुए समाधि पर्व के अवसर पर किसी भी प्रकार के मेले का आयोजन नहीं होगा। समाधि परिसर के दोनों तरफ तीन-तीन सौ मीटर की परिधि में किसी भी प्रकार की कोई दुकान भी नहीं लगेगी। बाबा के समाधि पर चादरपोशी के लिए आने वाले भक्तों को कोविड-19 के प्रोटोकॉल को सख्ती से पालन करना होगा। बगैर मास्क पहने किसी को भी समाधि परिसर के आसपास भी आने की इजाजत नहीं होगी। हैंड सेनेटाइजेशन और तीन फीट की दूरी का सख्ती से पालन करना होगा। समाधि गर्भ गृह में भी सिर्फ तीन पुजारी ही को हीं रहने की इजाजत है। एक-एक कर के भक्तजन गर्भगृह जायेंगे और शीघ्रता से चादरपोशी कर निकासी द्वार से वापस होंगे। इस बीच भक्तों को अंदर में अगरबत्ती के प्रयोग की मनाही होगी।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी