पीएम मोदी के भाई प्रह्लाद भाई और बेटी के सम्मान में गिरिडीह चैंबर ऑफ कॉमर्स ने किया सम्मान समारोह, साहु समाज ने भी किया सम्मानित

कारोबारी ऐसे मजबूत स्तंम्भ कि नेता और राजनीति दल भी झुकाते रहे सिरः प्रह्लाद मोदी

गिरिडीहः
प्रधानमंत्री मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी और उनकी बेटी सोनल मोदी के गिरिडीह पहुंचने पर रविवार को उनका स्वागत अलग-अलग समाजिक संगठन और कारोबारी संगठन ने पूरे गर्मजोशी के साथ किया। सबसे पहले शहर के व्हीट्टी बाजार स्थित साहु धर्मशाला में साहु समाज द्वारा अभिनंदन समारोह आयोजित हुआ। जहां प्रह्लाद मोदी व उनकी बेटी सोनल मोदी को साहु समाज के धर्मप्रकाश साहु, मुखिया शिवनाथ साहु, पूर्व मुखिया खुशबू देवी, अरुण साहु, बालगोविंद साहु ने शॉल ओढ़ाकर और मोमेंटो देकर सम्मानित किया। इस दौरान झारखंड परिवर्तन संघ मुंबई के अध्यक्ष अरविंद कुमार भी मौजूद थे।


इधर शहर के वृदांवन होटल में गिरिडीह चैंबर ऑफ कॉमर्स की और से प्रह्लाद मोदी, दिल्ली भाजपा ओबीसी मोर्चा के प्रवक्ता रजनीश गुप्ता और सोनल मोदी के सम्मान में समारोह का आयोजन किया गया। मौके पर फेडरेशन ऑफ झारखंड इंण्डस्ट्रीज के उपाध्यक्ष प्रदीप अग्रवाल, चैंबर के पदाधिकारी मुकेश जालान, दीपक मोदी, विकास खेतान, राकेश मोदी, प्रमोद कुमार, निर्मल सलामपुरिया, अशोक अग्रवाल के साथ भाजपा अध्यक्ष महादेव दुबे, संदीप डंगाईच, नवनीत सिंह, संजीत सिंह पप्पू, देवेन्द्र गुप्ता, देवराज, मोतीलाल उपाध्याय भी शामिल हुए। मौके पर चैंबर के सम्मान समारोह को लेकर प्रह्लाद मोदी ने कारोबारी संगठन की खिचांई करते हुए कहा कि चैंबर नाम ब्रिटिश सम्राज्य का दिया हुआ है।

जबकि चैंबर की मूल पहचान महाजन होता रहा। लेकिन वक्त और दौर बदला। तो महाजन से हटकर अब चैंबर बन गया। प्रह्लाद मोदी ने कहा कि एक वक्त था जब बड़े-बड़े नेता और राजनीतिक दल इसी महाजन के सामने सिर झुकाते थे। क्योंकि ब्रिटिश समाज्य को एक प्रकार का आर्थिक चोट यही महाजन देते थे।

आजादी के बाद कई बड़े राजनीतिक दल और नेताओं को कारोबारियों के आगे नतमस्तक होना ही पड़ता था। कहा कि अगर आने वाले दिनों में देश की इकोनॉमी में ग्रोथ होता है। तो उसमें देश के पूंजीपतियों की भूमिका सबसे बड़ी होगी। इस बीच सम्मान समारोह को प्रदीप अग्रवाल, दिल्ली भाजपा के नेता रजनीश गुप्ता ने भी संबोधित किया। जबकि समारोह में चैंबर के धीरज जैन समेत कई सदस्य शामिल हुए।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी