आदिवासी युवती ने बगरेडीह गांव के साजिद सहित दो दोस्तो पर लगाया बलात्कार का आरोप

  • फेसबुक के माध्यम से हुई जान पहचान, शादी का प्रलोभन देकर तीन बार किया दुष्कर्म
  • मामले की जांच में जूटी पुलिस

गिरिडीह। जिले के तिसरी थाना अंतर्गत महादेव टांड़ गांव की आदिवासी युवती ने अपने माता पिता के साथ तिसरी थाना पहुंची और शादी का लालच देकर बगरेडीह गांव के साजिद अंसारी सहित दो दोस्तो पर गैंग रेप करने का आरोप लगाया है। उक्त लोगों के खिलाफ आवेदन देकर पुलिस से न्याय की मांग की है।

आदिवासी युवती ने आवेदन में बताया है कि पिछले साल फेसबुक आईडी से संपर्क कर नंबर लिया। इसके बाद बातचीत का सिलसिला चलने लगा। अपने को हिन्दू बताया और आईडी वैसे ही मुस्लिम का चलाता हूं। इस दौरान शादी करने की बात कर मिलने के लिये बुलाने लगा। मिलने के लिये विगत 13 जून को गड़कुरा पंचायत के पालमो मिशन स्कूल के पास बुलाया और रात भर पालमो स्कूल में साथ में रखा मना करने के बाद भी मेरे साथ बलात्कार किया। शादी करने की बात कही तो व्यवस्था कर आने की बात कहकर चला गया। दुसरी बार भी फोन से बुलाकर पारसनाथ ले गया और बहला फुसला कर शारीरिक संबंध बनाया। उस समय भी शादी की बात कही तो बोला कोर्ट मैरिज कर लेंगे कागजात बनवा लेते है।

बताया कि तीसरी बार कबूतरी पहाड़ के पास आने के लिये फोन कर बुलाया और कहा 24 जून को मिलने आओ कल शादी करना है। जब कबूतरी पहाड़ के पास गई तो साजिद के साथ उसके दो दोस्त मो. इरफान व मो. नरसुला को देख कर कहा ये दोनों यहां क्यो आये है इसके बाद दोनो ने बारी बारी से बलात्कार किया। काफी रोने गिड़गिड़ाने व विनती करने के बाद भी तीनो ने मुझे नही छोड़ा। इसके बाद भी साजिद को कहा सबकुछ लूट लिया है तो अब शादी कर लो तो जाति सूचक गाली देने लगे।

घटना के बाद वह किसी तरह घर पहुंची और घरवालों को घटना से अवगत कराया। जिसके बाद माता पिता ने गड़कुरा मुखिया के साथ बगरेडीह गांव आरोपी साजिद के घर गया। जहां पर उनके माता पिता भाई ने जाति सूचक गाली देकर धक्का मारकर बाहर निकाल दिया। बगरेडीह मुखिया के पास भी इंसाफ की गुहार लगाई, लेकिन वहां भी इंसाफ नही मिला।

इधर मामले को लेकर थाना प्रभारी पीकू प्रसाद ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी