ममता बनर्जी ने की बंगाल में फ्री कोविड-19 वैक्सीन देने की घोषणा

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में मुफ्त कोरोना वैक्सीन देने का ऐलान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने किया है। सरकार ने घोषणा की है कि पहले चरण में राज्य में प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टरों को नि: शुल्क कोरोना वैक्सीन भी दी जाएगी। साथ ही पुलिसकर्मियों को भी मुफ्त टीकाकरण देने का आधिकारिक संदेश मिलना शुरू हो गया है। दूसरी ओर भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर लोगों को दिग्भ्रमित करने का आरोप लगाया है। दरबसल, 16 जनवरी से पूरे देश के साथ बंगाल में भी कोविड-19 वैक्सीन दिया जाना शुरू होगा, तो वैक्सीन को लेकर अब बंगाल की राजनीति गरमा गई है।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नाम पर पुलिसकर्मियों के मोबाइल पर मैसेज भेजा जा रहा है। इसमें लिखा है, कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एक कोरोना योद्धा के रूप में मैं आपका सम्मान करती हूं जैसे आपने हमेशा लोगों की सेवा की है। आप और आपका परिवार हमेशा अच्छा और स्वस्थ रहें। बता दें कि कोरोना से कोलकाता पुलिस के लगभग 20 अधिकारियों की मौत हो चुकी है। इनमें ऑफिसर इंचार्ज रैंक के अधिकारी हैं। दूसरी ओर भाजपा के केंद्रीय सह प्रभारी अमित मालवीय ने ट्वीट किया है कि बंगाल में अब कोरोना वैक्सीन को लेकर मुख्यमंत्री फर्जी दावा कर रही हैं कि उनकी सरकार सभी फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं को मुफ्त कोविड वैक्सीन प्रदान कर रही है।

उधर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं में पोस्टर लगाने की होड़ मच गई है। जिनमें लिखा है कि हमारे राज्य के प्रत्येक व्यक्ति को मुफ्त में कोविड वैक्सीन दी जाएगी। बेशर्मी की कोई सीमा नहीं है। उन्होंने कहा कि कोरोना मुकाबला में राज्य सरकार पूरी तरह से विफल रही है। केंद्र सरकार की जारी जानकारी के अनुसार कोरोना वैक्सीन भारत में 16 जनवरी (शनिवार) से दी जाएगी। इसी समय, राज्य में टीकाकरण शुरू होगा। पहले टीके लगाए जाने वाले लगभग 30 मिलियन स्वास्थ्य कार्यकर्ता हैं, जिनमें पहली पंक्ति के कोरोना योद्धा भी शामिल हैं। इनमें राज्य के पुलिसकर्मी भी शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि बंगाल में टीका का पहले ही दो बार ड्राइ रन हो चुका है, ताकि टीकाकरण के दौरान कोई जटिलता पैदा न हो। बिहार के बाद अब बंगाल के भी विधानसभा चुनाव में कोरोना वैक्सीन वोट पाने का बड़ा हथियार के रूप में देखा जा रहा है। लिहाजा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बैठक से पहले ही बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा कर दी है कि राज्य में हर किसी को फ्री वैक्सीन देने के इंतजाम किए जा रहे हैं। कल ही ये ऐलान हुआ है कि 16 जनवरी से देश में टीकाकरण का काम शुरू हो जाएगा।

तीन जनवरी को दो वैक्सीन भारत बायोटेक कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के निर्मित ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की कोविशिल्ड को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी मिली थी। शुरुआती दौर में पहले स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर्स को प्राथमिकता दी जाएगी, जिनकी अनुमानित संख्या तकरीबन तीन करोड़ है। इसके बाद 50 साल से ऊपर की आयु वाले गंभीर बीमारियों के शिकार लोगों को टीका लगाया जाएगा, जिनकी अनुमानित संख्या 27 करोड़ के आसपास है। इन सभी 30 करोड़ लोगों को फ्री कोरोना वैक्सीन लगेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार शाम चार बजे देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। जिसमें मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी मौजूद रहेंगी। माना जा रहा है कि इस बैठक में कई राज्यों के सीएम कोरोना के फ्री वैक्सीन लोगों को दिए जाने का मुद्दा उठा सकते हैं।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी