ओबीसी मोर्चा ने किसान आंदोलन के समर्थन में किया प्रदर्शन

  • काॅरपोरेट घराने अडानी अंबानी व ईवीएम के प्रतीक का जलाया पुतला
  • केंद्र सरकार ईवीएम और काॅरपोरेट घराने के गठजोड़ से चला रही है सरकार: राजेश गुप्ता

रांची। राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा के तत्वाधान में किसान आंदोलन के समर्थन में तीन काले कृषि कानून के प्रति काॅरपोरेट घराने अडानी अंबानी व ईवीएम के प्रतीक का दहन आज अल्बर्ट एक्का चैक पर किया गया।
मौके पर राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता ने कहा कि केंद्र सरकार को पता है कि वह ईवीएम और काॅरपोरेट घरानों के पैसों से सरकार बनाते हैं इसलिए आंदोलन किसान की बात सरकार नहीं सुन रही है। केंद्र सरकार ईवीएम और काॅरपोरेट घराने के गठजोड़ से सरकार चला रही है। इसका जीवंत प्रमाण है कि महीनों से इस कानून के विरोध में देश के किसान सड़कों पर है। इस कड़ाके की ठंड में भी बच्चे से लेकर नौजवान बुढ़े महिला पुरुष सड़क पर हैं। लेकिन सरकार तीन काले किसान बिल को वापस नहीं ले रही है।

झारखंड आंदोलनकारी आजम अहमद ने कहा कि यह आंदोलन अब सिर्फ किसानों का नहीं यह आम जनों का हो गया है। सरकार को अविलंब इन तीनों कृषि कानून को वापस लेना होगा नहीं तो इस आंदोलन को ओर तेज किया जाएगा। सरकार ने इस आंदोलन को बदनाम करने के लिए कई तरह के हथकंडे भी अपनाएं। अंततः यह अभी तक बदनाम नहीं कर पाए।

मौके पर आजम अहमद, अवधेश कुमार पाल, अमित गुप्ता, प्रेम नाथ साहू, विष्णु सोनी, अंजनी कुमार सिंह, चंद्र रश्मि पिगुआ, दिनेश महतो, रीना मजूमदार, आफताब आलम, सुशांतो मोहम्मद मुख्तार, मोहम्मद सज्जाद, जमील अख्तर, दिनेश लोहारा सहित कई लोग उपस्थित थे।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी