गिरिडीह सीसीएल से एमपीएल का कोयला उठाव बंद होने का माले ने किया स्वागत

  • कहा, अब तत्काल लोकल सेल चालू कर रोजगार की हो व्यवस्था
  • गिरिडीह कोलियरी बचाओ संघर्ष मंच के बैनर तले विगत कई दिनों से चल रहा था आंदोलन

गिरिडीह। एमपीएल को ओपेन कास्ट से कोयले का उठाव आज बंद कर दिए जाने का भाकपा माले तथा एआईसीसीटीयू ने स्वागत करते हुए इसे गिरिडीह कोलियरी के हित व स्थानीय लोडिंग मजदूरों और छोटी पूंजी के ट्रक मालिकों के रोजगार के हक में बताया है। एमपीएम से कोयले के उठाव का बंद होना विगत कई दिनों से जारी धरना में शामिल लोगों की जीत है। गुरुवार को उपरोक्त बातें भाकपा माले नेता सह एआइसीसीटीयू के राष्ट्रीय पार्षद राजेश कुमार यादव तथा माले के गिरिडीह विधानसभा प्रभारी राजेश सिन्हा ने संयुक्त रूप से बयान देते हुए कही।

कहा कि हाल ही में यहां से जब एमपीएल के लिए कोयला उठाव शुरू हुआ तो इसके विरोध में गिरिडीह कोलियरी बचाओ संघर्ष मंच के बैनर तले लगातार चल रहे आंदोलन में भाकपा माले एवं इसके समर्थित ट्रेड यूनियन एआइसीसीटीयू ने न सिर्फ आंदोलन का समर्थन किया बल्कि लगातार इसमें बढ़-चढ़कर भाग भी लिया था। इसलिए आज एमपीएल से कोयला उठाव बंद होने से निश्चित रूप से हमसबों में हर्ष है।


कहा कि, बात सिर्फ इतने भर से नहीं होगी। बल्कि हमारी मूल लड़ाई यहां छोटी पूंजी के ट्रक मालिकों के ठप्प पड़े रोजगार तथा लोडिंग मजदूरों की दुर्दशा को लेकर रही है। इसलिए हमारी मांग है कि, तत्काल ही गिरिडीह कोलियरी में व्यापक रूप से लोकल सेल को चालू कर स्थानीय गरीब बेरोजगार मजदूरों को रोजगार की गारंटी के साथ ट्रक मालिकों का भी व्यवसाय शुरू किया जाए। कहा कि, वर्षों पूर्व यहां गठित लोडिंग मजदूर समूहों (खाती) के अधिकांश मजदूर अब मृत अथवा रिटायर हो चुके हैं, जबकि बड़े पैमाने पर नौजवान मजदूरों का समूह बेरोजगार बैठा है। इसलिए इन नए मजदूर समूहों को हर हाल में गिरिडीह कोलियरी में लोडिंग का अधिकार देना होगा।

मौके पर विभिन्न दलों के लोगों के अलावे भाकपा माले के गिरिडीह कोलियरी एरिया के प्रभारी पप्पू खान, उज्जवल कुमार साव, कन्हैया सिंह, संतोष कुमार राय, संजय चौधरी, सोरेन चौड़े, प्रधान टुडू, मनोज हांसदा, मदन मुर्मू, श्यामलाल टुडू, मुमताज अंसारी, साहेबराम बेसरा आदि मौजूद थे।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी