गिरिडीह के सरस्वती शिशु विद्या मंदिर स्कूल में हुआ गणित विज्ञान मेला का आयोजन, 150 प्रतिभागियों ने लिया हिस्सा

गिरिडीहः
गिरिडीह के सरस्वती शिशु विद्या मंदिर स्कूल में बुधवार को गणित विज्ञान मेला का आयोजन किया गया। चार श्रेणी में आयोजित गणित विज्ञान मेला में स्कूल के 150 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। जिसमें प्रतिभागियों को स्कूल की और से सौर उर्जा आधारित जल संसाधन पैदा करना, उर्जा संरक्षण, खाद्य श्रृखंला, जलसंरक्षण और शुद्धिकरण, संक्रामक रोगों से बचाव और वायु और जल प्रदुषण के साथ मानव उत्सर्जन जैसे विषय शामिल थे। स्कूल के इस एक दिवसीय गणित विज्ञान मेला का उद्घाटन गांडेय जेएनवी स्कूल के प्राचार्य उपेन्द्र नाथ चाौबे, विद्या भारती के कार्यकर्ता मिथिलेश सिंह, विद्या विकास समिति के सचिव सतीशवर सिन्हा, और स्कूल के प्राचार्य शिव कुमार चाौधरी ने द्वीप जलाकर और देश के वैज्ञानिकों के तस्वीर पर माल्यार्पण कर किया।

स्कूल के इस ज्ञान विज्ञान मेले में शामिल प्रतिभागियों में चारों श्रेणी के पहला स्थान पाने वाले प्रतिभागियों को अब धनबाद के स्कूल में आयोजित प्रतिभागियों में शामिल होने के लिए भेजा जाएगा। इस बीच गणित विज्ञान मेला में शामिल प्रतिभागियों ने सौर उर्जा के साथ वायु और जल प्रदुषण के साथ फूड चैन का बेहतरीन मॉडल बनाया। और दिनोंदिन बढ़ते वायु और जल प्रदुषण को लेकर सजग किया कि अब भी अगर हालात में सुधार नहीं हुए, तो आने वाले दिनों में स्थिति विकराल होगी। क्योंकि हर स्तर के प्रदुषण का कहर तेजी से बढ़ रहा है।

इधर जेएनवी के प्राचार्य चाौबे ने विद्या मंदिर के छात्रों के विज्ञान मॉडल की प्रदर्शनी को लेकर कहा कि निश्चित तौर पर छात्रों ने मॉडल के जरिए प्रदुषण और स्किल डेवलमेंट को फोकस किया है। क्योंकि इन प्रदर्शनी में छात्रों की प्रतिभा ही सामने आई है। स्कूल की और से गणित विज्ञान मेला में प्रतिभागियों के मॉडल के लिए निर्णायक मंडली में अलग-अलग स्कूलों के शिक्षकों के शामिल किया गया था। जिसमें सीसीएल डीएवी से एनपी राठौर, मधुमिता राय, सुमन मिश्रा, रंजीत महतो और सूबोध वर्मा शामिल थे।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी