कांग्रेस की गौरव पदयात्रा पहुंची शहर के टावर चौक, देशभक्ति कार्यक्रम के साथ हुआ समापन

  • कांग्रेसियों ने कहा पदयात्रा का उद्देश्य हुआ पूरा
  • देश की आजादी के साथ साथ विकास में रहा कांग्रेस का अहम योगदान

गिरिडीह। कांग्रेस की भारत गौरव पदयात्रा रविवार को जिले के पचम्बा से चलकर शहरी क्षेत्र के टावर चौक पहुंचकर संपन्न हुई। कांग्रेस की यह गौरव यात्रा जिले के राजधनवार कॉग्रेस आश्रम से शुरू हुई थी जो बरमसिया, भरकट्टा, द्वारपहरी होते हुए आज छठे दिन गिरिडीह पहुंची। पदयात्रा में आज भारी मात्रा में महिलाओं युवाओं और आदिवासी साथियों ने ढोल नगाड़े के साथ भाग लिया। इस दौरान टावर चौक पर रंगारंग देशभक्ति कार्यक्रम की प्रस्तुती स्थानीय कलाकारों द्वारा की गई। भारी बारिश के बीच भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं का जोश कम नहीं हुआ और लगातार तिरंगा हाथ में लेकर महात्मा गांधी अमर रहे, भारत माता की जय, मौलाना अब्दुल कलाम आजाद अमर रहे, नेताजी सुभाष चंद्र बोस अमर रहे, शहीद भगत सिंह अमर रहे के नारे लगा रहे थे। इस दौरान बुजुर्गों कांग्रेसी परेश नाथ मिश्रा को पदयात्रा में लगातार 6 दिन साथ चलने के लिए नरेश वर्मा, सतीश केडिया, अजय सिन्हा द्वारा संयुक्त रूप से शाल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष नरेश वर्मा, कांग्रेस नेता सतीश केडिया, कांग्रेस नेता अजय सिन्हा, समीर चौधरी सहित अन्य कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि आजादी को 75 वर्ष हो चुके हैं। देश में एक नई पीढ़ी आ चुकी है जो देश की आजादी कैसे आई इसके बारे में जानकारी कम है, लेकिन इस यात्रा से उन युवाओं को देश की आजादी की अमर गाथा को बताने का काम किया गया। कहा कि यह गौरव यात्रा कई मायने से सफल यात्रा रही है और हजारों युवा इस पदयात्रा से कांग्रेस की ओर आकर्षित हुए हैं। भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि जो भाजपा देश की जनता को बरगलाने का काम करती है और जनता को बेवकूफ बनाने के लिए यह सवाल करती है कि कांग्रेस ने क्या किया 70 सालों में उनसे मेरा जवाब है कि सिर्फ आजादी के बाद नहीं कांग्रेस ने आजादी के पहले भी 62 वर्षों तक देश को लगातार आजादी दिलाने के लिए संघर्ष करती रही थी।

मौके पर जिला युवा कांग्रेस के अध्यक्ष हसनैन अली, यस सिन्हा, शशि शर्मा, महमूद अली खान, मास्टर इमाम अहमद, रजा नूरी, मोहम्मद निजामुद्दीन, निजामुद्दीन अंसारी, इतवारी महतो, मुरली मंडल, मोहम्मद गुलाम मुस्तफा, सच्चिदानंद सिंह, निरंजन राय, चंद्रशेखर सिंह, धनंजय सिंह, बिलाल हुसैन, सीताराम पासवान, राजेश दूरी, राज किशोर सिंह, बलराम यादव, अशोक विश्वकर्मा, दिनेश विश्वकर्मा, वरुण सिंह, हैदर अली, मोहम्मद अब्बास अंसारी, असलम अली, अयूब अंसारी, शमशेर अंसारी, मुकेश हारून रशीद, संतोष दास, मनोज राय, विमल सिंह, कृष्णा सिंह, राज किशोर राय, बासुदेव वर्मा, इतवारी वर्मा, सहित कई कांग्रेसी उपस्थित थे।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी