पुलिस के हत्थे चढ़े आईएमए सचिव और कपड़ा व्यवसायी से रंगदारी मांगने वाले चारों आरोपी

  • आईएमए सचिव से 20 लाख तो कपड़ा व्यवसायी से मांगे थे 50 लाख रूपये
  • ग्रामीण एसपी व डीएसपी के संयुक्त नेतृत्व में हुई कार्रवाई
  • सात मोबाइल और एक बोलेरो बरामद

रांची। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के सचिव शंभू प्रसाद से रंगदारी मांगने वाले अपराधियों को रांची पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एसएसपी सुरेंद्र झा ने शनिवार को प्रेसवार्ता कर बताया कि इस मामले में चार अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है। चारों अपराधियों में इस्तियाक आलम उर्फ इश्तियाक अंसारी, जुनेद आलम, मुस्ताक अंसारी उर्फ प्रदीप पासवान और शेख अफजल शामिल है। बताया कि चारों अपराधियों ने डॉक्टर शंभू प्रसाद के मोबाइल पर पीएलएफआई के नाम से पोस्टर और मैसेज भेजकर रंगदारी के रूप में 20 लाख रूपये की मांग की थी। जिसके बाद इस मामले में कांके थाना में मामला दर्ज कराया गया था।
उन्होंने बताया है कि चारों अपराधियों ने मोबाइल नंबर 7019148258 से आईएमए के सचिव से रंगदारी मांगने के साथ ही एक कपड़ा व्यवसायी मो. इनायतुल्लाह उर्फ बबलू से भी 50 लाख रुपए की रंगदारी मांगी थी। जिसकी शिकायत कांके थाना में दर्ज कराई गई थी।

ग्रामीण एसपी के नेतृत्व में की गई कार्रवाई

उन्होंने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए उनके दिशा-निर्देश के तहत ग्रामीण एसपी नौशाद आलम व डीएसपी नीरज कुमार के नेतृत्व में एक टीम बनायी गयी थी। टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए कांड में संलिप्त अपराधियों को गुमला व रांची से गिरफ्तार किया। बताया कि गिरफ्तार आरोपियों के पास से कांड में प्रयुक्त मोबाइल, सिम कार्ड और अन्य सामानों की बरामदगी की गई है। सभी अपराधी पूर्व में भी जसपुर (छत्तीसगढ़) और झारखंड के गुमला से लूट अपहरण जैसे संगीन मामलों में जेल जा चुके हैं।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी