मुआवजा मिला नहीं, तो ग्रामीणों ने डुमरी में सिक्स लाईन सड़क निर्माण काम कराया ठप, कंपनी के वाहनों में की तोड़फोड़

गिरिडीहः
गिरिडीह के डुमरी और बगोदर के बीच नेशनल हाईवे में छह लाईन रोड का निर्माण कर रहे सड़क निर्माण एजेंसी डीबीएल के कार्यालय में ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया। सैकड़ो की संख्या में पहुंचे ग्रामीणों में महिलाएं और युवतियां भी शामिल थी। ग्रामीणों के हंगामा का कारण था कि बीतें शुक्रवार को कंपनी के लाईजनिंग अधिकारी सुनील राय ने अपने 22 गुर्गो के साथ सिमराडीह के एक व्यक्ति की जमकर पीटाई कर दिया था। सिमराडीह का भुक्तभोगी ग्रामीण अपने जमीन अधिग्रहण को लेकर मुआवजा की मांग करने गया था। लेकिन लाईजनिंग अधिकारी ने अपने गुर्गो के साथ उसका पीटाई कर दिया। शुक्रवार को हुए इसी घटना के विरोध में शनिवार को अचानक ग्रामीणों की भीड़ कंपनी के कार्यालय पहुंच करने के साथ कार्यालय का घेराव कर छह लाईन सड़क निर्माण का कार्य तुंरत बंद करने को कहा। लेकिन काम चालू देख ग्रामीणों का भी गुस्सा भड़का और गुस्साएं ग्रामीणों ने कंपनी के कई वाहनों में तोड़फोड़ कर दिया। इस दौरान घटना की जानकारी मिलने के बाद डुमरी एसडीएम प्रेमलता मुर्मु, एसडीपीओ नीरज सिंह और डुमरी थाना पुलिस भी घटनास्थल पहुंची। वक्त रहते पुलिस और अधिकारी नहीं पहुंचते तो घटना कोई बड़ा रुप ले सकता था।


क्योंकि अधिकारियों और पुलिस के पहुंचने से पहले ग्रामीणों ने कंपनी के पदाधिकारियों से पूछा कि जब उनके जमीन अधिग्रहण को लेकर अब तक मुआवजा नहीं मिला है। ऐसे में कंपनी उनके जमीन पर जबरन निर्माण कार्य क्यों कर रही है। इसी बात को लेकर विवाद इतना बढ़ा कि ग्रामीणों और कंपनी के पदाधिकारियों के बीच तू-तू-मैं-मैं शुरु हो गया। इसके बाद ग्रामीणों ने गुस्से में आते हुए कंपनी के कई वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस बीच जानकारी मिलने के बाद अधिकारी और पुलिस घटनास्थल पहुंचे। और माहौल को नियंत्रित करते हुए लोगों को समझा-बुझाकर वापस भेजा।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी