इंदिरा गांधी के आपातकाल का जवाब आंदोलनकारियों को सम्मानित कर देगी गिरिडीह भाजपाः महादेव दुबे

25 जून को कांग्रेस के आपातकाल का पुरजोर विरोध करने गिरिडीह भाजपा ने बनाया प्लाॅन

गिरिडीहः
भूतपूर्व पीएम इंदिरा गांधी और कांग्रेस शासनकाल के आपताकाल का जवाब गिरिडीह भाजपा ने संपूर्ण क्रांति के आंदोलनकारियों को सम्मानित कर देने का निर्णय लिया। गुरुवार को जिला भाजपा कमेटी के नेताओं ने सांसद प्रतिनिधी दिनेश यादव के आवास पर प्रेसवार्ता किया। और 25 जून को आपातकाल के विरोध में सम्मान समारोह आयोजित करने का निर्णय लिया। कमेटी के अध्यक्ष महादेव दुबे, जिला महामंत्री सुभाष सिन्हा, जमुआ विधायक केदार हाजरा, पूर्व विधायक निर्भय शाहाबादी, प्रर्देश कार्यसमिति सदस्य चुन्नूकांत, संजीत सिंह पप्पू, कोषाध्यक्ष मुकेश जालान, नवीन सिन्हा भी प्रेसवार्ता में शामिल हुए। वहीं प्रेसवार्ता के दौरान जिलाध्यक्ष महादेव दुबे ने कहा कि साल 1971 में रायबरेली सीट से चुनाव जीतने के बाद और सत्ता बचाने के लिए कांग्रेस के नेत्तृव में केन्द्र में सरकार बनाने वाली भूतपूर्व पीएम इंदिरा गांधी ने साल 1977 में देश को आपातकाल में झोंक दी थी। इतना ही नही मीसा एक्ट भी भूतपूर्व पीएम के कार्यकाल में लाया गया। लिहाजा, गिरिडीह भाजपा ने इंदिरा गांधी के इसी आपातकाल का पुरजोर विरोध करने का निर्णय लिया है। प्रेसवार्ता के दौरान भाजपा नेता संजीत सिंह पप्पू ने जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को जिला कार्यालय में संपूर्ण क्रांति के आंदोलन में शामिल आंदोलनकारी त्रिभुवन दयाल, गौरीशंकर भदानी, साहेबराम महतो, श्याम सुंदर राम, पूर्व मंत्री चन्द्रमोहन प्रसाद और अपूर सिंह समेत कई आंदोलनकारियों को सम्मानित करने का निर्णय लिया है।
जबकि प्रेसवार्ता के दौरान जमुआ विधायक केदार हाजरा ने कहा कि इंदिरा गांधी के आपातकाल को भूला नहीं जा सकता। क्योंकि आपातकाल के दौरान ही भूतपूर्व पीएम ने एक-एक यातनाएं पूरे देश को दिया। जमुआ विधायक हाजरा ने कहा कि सिर्फ सत्ता बचाने के लिए भूतपूर्व पीएम ने एक कलंक दिया। मौके पर पूर्व सदर विधायक निर्भय शाहाबादी ने कहा कि जिस प्रकार से आपातकाल कांग्रेसनीत इंदिरा गांधी की सरकार ने लागू किया। वो एक कलंक था, और उस कलंक को मिटाने का प्रयास कांग्रेस का धरा का धरा रह गया। लिहाजा, भाजपा ने इस कंलक के आंदोलनकारियों को सम्मानित कर निर्णय लिया कि ऐसा जवाब देना जरुरी है कि कांग्रेस जैसी हरकत कोई और दल नहीं कर सके। पूर्व विधायक ने कहा कि आततियों के खिलाफ भाजपा का लड़ाई जारी थी, और जारी रहेगा। तो प्रेसवार्ता के दौरान सांसद प्रतिनिधी दिनेश यादव ने कहा कि भाजपा हर आंदोलनकारियों का सम्मान करना अपना दायित्व समझती है जो आपातकाल के खिलाफ हुए संघर्ष में शामिल हुए थे।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी