बालू उठाव पर लगे रोक के विरोध में अपने ही कार्यक्रम को लेकर बैकफुट पर रहा गिरिडीह भाजपा कमेटी

जनमु्द्दों पर ही जनता ने भाजपा को दिया जनाधार, किसी कार्रवाई से भयभीत होने की जरुरत नहींः बाबूलाल मंराडी

हेंमत सरकार राज्य में खुले तौर पर करा रही बालू, पत्थर की चोरीः अन्नपूर्णा देवी

प्रशासन की सख्ती के कारण जुलूस निकाले बगैर जनसभा कर खत्म कर दिया कार्यक्रम

गिरिडीहः
बालू उठाव पर लगे रोक के खिलाफ बुधवार को भाजपा के गिरिडीह कमेटी ने ट्रैक्टर मालिकों के रोजगार प्रभावित होने का मुद्दा बनाकर हेंमत सरकार को घेरने का प्रयास किया। ट्रैक्टरों और उनके मालिकों के साथ जुलूस निकाल कर भाजपा जुलूस निकालने का कार्यक्रम तय कर रखा था। लेकिन शहर के सर्कस मैदान में जनसभा के बाद पार्टी का कार्यक्रम यही समाप्त हो गया। दरअसल, जिले के नदियों से बालू उठान के दौरान प्रशासन द्वारा ट्रैक्टरों को जब्त करने को लेकर भाजपा नाराज थी। और प्रशासन पर हेंमत सरकार के इशारे पर काम करने का आरोप लगाकर शक्ति प्रदर्शन की पूरी तैयारी कर रखा था। लेकिन बुधवार को पार्टी का आंदोलन हो पाता। इसे पहले ही प्रशासन सतर्क रही। और जिन-जिन रुटों से ट्रैक्टरों के साथ आ रहे भाजपा नेताओं को रोकना शुरु कर दिया। हालांकि काफी अपील के बाद प्रशासन ने कुछ ट्रैक्टरों का इंट्री शहर के रास्ते सर्कस मैदान में होने दिया गया। जहां जनसभा होना तय था। जबकि जनसभा में पार्टी के विधायक दल के नेता बाबूलाल मंराडी के अलावे कोडरमा सांसद सह भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी, पूर्व सांसद रवीन्द्र राय समेत जमुआ विधायक केदार हाजरा समेत पूर्व विधायक भी शामिल हुए। प्रशासन की सख्ती का परिणाम रहा कि जनसभा के बाद भाजपा बैकफुट पर रही। और डीसी राहुल सिन्हा को ज्ञापन सौंप अपने कार्यक्रम स्थगित कर दिया।


इधर सर्कस मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए पार्टी के विधायक दल के नेता बाबू लाल मंराडी ने हेंमत सरकार को घेरने का प्रयास किया। कार्यक्रम स्थल में ट्रैक्टर पर चढ़कर बाबूलाल मंराडी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जनमुद्दों को दूर करने के लिए जनता ने भाजपा को जनाधार दिया। ऐसे में अब पार्टी को जनाधार का सम्मान करना होगा। क्योंकि हेंमत सरकार के कार्यकाल से जनता त्रस्त है। फिर चाहे पार्टी समर्थकों पर प्रशासन मुकदमे ही क्यों ना दर्ज करें। लेकिन जनता को समस्याओं में छोड़ना भाजपा के आदत में नहीं। कार्यकर्ताओं में उत्साह भरते हुए विधायक दल के नेता मंराडी ने कहा कि प्रशासन के किसी कार्रवाई से कार्यकर्ताओं को भयभीत होने की जरुरत नहीं। जिन वादों के बीच हेंमत सरकार ने राज्य का सत्ता हासिल किया। अब उन वादों से हेंमत सरकार भाग रही है। हेंमत सरकार के मनमानी रवैया का प्रभाव अब स्थानीय प्रशासन पर भी पड़ रहा है। साफ दिख रहा है कि सरकार के इशारे पर प्रशासन किस प्रकार काम कर रही है। बालू, कोयला और पत्थरों की चोरी अब राज्य में बढ़ चुका है। सीमा क्षेत्रों से राज्य के खनिज बाहर जा रहे है। लेकिन सरकार चुप है।
इधर जनसभा को संबोधित करते हुए कोडरमा सांसद अन्नपूर्णा देवी हेंमत सरकार पर सीधे तौर पर बालू तस्करी करने का आरोप लगाई। सुविधानुसार बालू नहीं मिलने के कारण ही विकास कार्य बंद पड़े है तो लोग अपने घरों को नहीं बना पा रहे। इस दौरान जनसभा को जमुआ विधायक केदार हाजरा, पूर्व विधायक निर्भय शाहाबादी, जयप्रकाश वर्मा के अलावे सांसद प्रतिनिधी दिनेश यादव, भाजपा नेता दिलीप वर्मा समेत कई नेताओं ने संबोधित किया। जबकि जनसभा में संदीप डंगाईच, हरमिंदर सिंह बग्गा, पूर्व मेयर सुनील पासवान, जिलाध्यक्ष महादेव दुबे, नवीन सिन्हा, आशीष बाॅर्डर, विशाल गुप्ता, उज्जवल गुप्ता, देवराज, नवनीत सिंह, विभाकर पांडेय समेत कई मौजूद थे।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी