नवजात को पोलियो की खुराक पिलाकर डीसी और सीएस ने कि पोलियो अभियान की शुरुवात

  • मातृत्व शिशु स्वास्थ केंद्र का भी लिया जायजा
  • फंड की कमी को देखते हुए सीएसआर का लिया जाएगा सहयोग: डीसी

गिरिडीह। पोलियो मुक्त अभियान गुरुवार से गिरिडीह में पोलियो दिवस के साथ शुरू हुआ। जिला मुख्यालय के चौताडीह मातृत्व शिशु स्वास्थ केंद्र में डीसी नमन प्रियेश लकड़ा और सिविल सर्जन डॉ शिव प्रसाद मिश्रा ने एक नौनिहाल को पोलियो की दो खुराक पिलाकर दो दिवसीय इस महायज्ञ की शुरुवात की। गिरिडीह स्वास्थ विभाग के आंकड़े के अनुसार जिले में चार लाख 91 हजार जन्म से लेकर पांच वर्ष तक के नौनिहाल को पोलियो की खुराक पिलाना है।

पोलियो दिवस की शुरुवात करने के बाद डीसी श्री लकड़ा ने कहा कि अभियान मिशन मोड में चलाया जाएगा। क्योंकि गुरुवार तक नब्बे फीसदी नोनिहाल को पोलियो ड्रॉप पिलाने का लक्ष्य तय किया गया है। क्योंकि 17 सितंबर तक चलने वाले इस महायज्ञ को लेकर मोबाइल वैन के माध्यम से घर-घर पहुंच कर पोलियो ड्रॉप दिया जाएगा। अभियान की शुरुवात करने के बाद डीसी और सीएस ने मातृत्व शिशु स्वास्थ केंद्र का भी निरीक्षण किया।

निरीक्षण के क्रम में डीसी ने शिशु स्वास्थ केंद्र में कई कमी पाया। लिहाजा, डीसी ने कहा की शिशु स्वास्थ केंद्र में जो कमी है उसे स्थानीय उद्योगपतियों से सीएसआर फंड का इस्तेमाल कर दूर करने का प्रयास किया जाएगा। क्योंकि आधारभूत संरचना की मजबूती के लिए आया हुए फंड में काफी अधिक कमी है। ऐसे में सीएसआर फंड का ही सहयोग लिया जाएगा।

पोलियो अभियान को सफल बनाने में डॉक्टर अशोक शर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रतिमा कुमारी समेत कई एएनएम और नर्स जूटी हुई है।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी