लंगटा बाबा समाधि स्थल पर नही लगेगा मेला: एसडीएम

मंदिर से पांच सौ मीटर की दूरी पर नही लगेगा एक भी दुकान

गिरिडीह। आगामी 28 जनवरी को संतो के संत लंगटा बाबा की 111वीं चादर पोशी कार्यक्रम को देखते हुए सोमवार को खोरीमहुआ एसडीएम धीरेन्द्र कुमार सिंह की अध्यक्षता में बाबा की समाधि स्थल खरगडीहा परिसर में मेला समिति की सदस्यों की एक बैठक हुई। जिसमें लंगटा बाबा की समाधि स्थल पर लगने वाले भव्य मेला एवं चादर पोशी कार्यक्रम पर चर्चा किया गया। बैठक में बाबा की भक्तों एवं आम लोगांे को जानकरी देते एसडीएम ने कहा कि सोशल डिस्टिसिंग का पालन करते हुए बाबा की गर्व गृह पर चादर पोशी करने पर निर्णय हुआ। मंदिर परिसर में पूजाहारी की संख्या दो से तीन लोग ही रहेंगे।

कोविड-19 महामारी को लेकर प्रशासन ने लिया निर्णय

मेला समिति सदस्यों को कोविड-19 माहामारी की जानकारी देते हुए खोरीमहुआ एसडीएम धीरेन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि इस बार मेला लगाने की आदेश नही है। सिर्फ बाबा का प्रसाद ग्रहण करने के लिए लोग सोशल डिस्टिसिंग का पालन करते हुए आवें और पांच मीटर की दूरी बनाकर ही चादर पोशी कर सकेंगें। बाबा की समाधि स्थल की मुख्य द्वार से 500 सौ मीटर की दूरी पर एक भी दुकान नही लगाने दिया जायेगा। राज होटल से खेदुवाडीह मोड़ तक कि खाली जमीन पर एक भी दुकान एवं तमाशा लगाने की अनुमति नही है। उन्होंने समिति के सदस्यों से अपील किया कि 28 जनवरी को आयोजित बाबा की समाधि स्थल पर होने वाले चादर पोशी कार्यक्रम को शांतिपूर्ण ढंग से मनाने के लिए प्रशासन को सहयोग करें। प्रचार वाहन के माध्यम से बाबा भक्तों को संदेश दें कि कोविड 19 को देखते हुए प्रशासन ने भव्य मेला के आयोजन पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा दिया है।

समाधि स्थल पर नही लगने दिया जायेगा भीड़

कहा कि सीसीटीवी एवं ड्रोन कैमरे से बाबा की समाधि स्थल की निगरानी रखा जायेगा। बाबा समाधि स्थल पर भीड़ नही लगने दिया जायेगा। इसके लिए प्रशासन अपने स्तर से निगाहें रखेंगे। कानून का उलंधन करने वाले लोगों के विरुद्ध कोविड 19 के अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया जायेगा। 27 जनवरी को ही बाबा के समाधि स्थल को स्थानीय पुलिस अपने कब्जे में ले लेंगे। हुजूम लेकर आने वाले लोग पर पुलिस की कड़ी नजर रहेंगी। उस पर भी मामला दर्ज किया जा सकता।

बैठक में बीडीओ बिनोद कुमार कर्माकर, अंचल पुलिस निरीक्षक बिनय कुमार राम, सीओ रामबालक कुमार, थाना प्रभारी प्रदीप कुमार दास, उप मुखिया राहुल कुमार साव अर्मेन्द्र कुमार, पप्पू साव, उमेश साव, पुजारी सुखदेव राम, रिंटू कुमार, पिंटू कुमार साव आदि मौजूद थे।

Please follow and like us:
Show Buttons
Hide Buttons
বাংলা English हिन्दी